पीएम के आह्वान से नया संकट : एक साथ लाइट बंद करने से फेल हो सकते हैं पावर ग्रिड !
ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फ़ेडेरेशन ने चिंता जताई है कि पावर ग्रिड फेल होने से चिकित्सा सेवाएँ भी प्रभावित हो सकती हैं जिस से सारे देश में हाहाकार मच सकता है। इस सबको लेकर फ़ेडेरेशन प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर आगाह करेगा।



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 5 अप्रैल को रात 9 बजे एक साथ लाइटें बंद होने से पूरे देश में बिजली सप्लाई का पावर ग्रिड फेल होने का ख़तरा उत्पन्न हो गया है। ये हमारा कहना नहीं बल्कि बिजली विभाग के इंजीनियरों का ही मानना है। बिजली बंद करने के आह्वान से केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय और बिजली उत्पादन तथा वितरण से जुड़ी सभी इकाइयों की रातों की नींद उड़ गई है।


पावर ग्रिड फेल होने से चिकित्सा सेवाएँ भी प्रभावित हो सकती हैं जिस से सारे देश में हाहाकार मच सकता है।